न्यूज शेयर करें

देवब्रत मंडल

शराब तस्करी में मुनाफा कमाने के लिए दो सहोदर भाई लग गए थे। दोनों भाई कोलकाता से शराब लेकर ट्रेन से चलता है और गंतव्य स्थान तक आपूर्ति करा दिया करता है लेकिन गया रेल थाना की पुलिस और आरपीएफ की संयुक्त टीम ने दोनों भाइयों को ट्रेन से शराब लेकर आते वक्त गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
इन दिनों गया आने वाली ट्रेनों व जंक्शन पर आरपीएफ़ और राजकीय रेल पुलिस द्वारा सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। आरपीएफ़ पोस्ट प्रभारी निरीक्षक अजय प्रकाश और रेल पुलिस निरीक्षक सुशील कुमार के संयुक्त नेतृत्व में चलाए जा रहे इस अभियान के दौरान दो शराब तस्कर को भारी मात्रा में शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। इस संबंध में रेल पुलिस इंस्पेक्टर सुशील कुमार व आरपीएफ़ इंस्पेक्टर अजय प्रकाश ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि 12381 अप कोलकाता-नई दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस से तस्कर शराब लेकर चल रहा है। गया जंक्शन पर जब ट्रेन पहुंची तो छापेमारी की गई। जिसमें 72 केन बीयर (750 एमएल) बरामद किया गया। शराब तस्कर दोनों सहोदर भाई है। एक का नाम राहुल वर्णवाल और दूसरे का नाम मुकेश वर्णवाल है। जिनके पिता का नाम स्व. सुरेन्द्र वर्णवाल है। उन्होंने बताया दोनों हरिपुर पश्चिम बंगाल के रहने वाला है। उन्होंने उत्पाद अधिनियम के तहत कांड आंकित कर दोनों को न्यायालय में उपस्थापित कराया गया। जहां से न्यायिक प्रक्रिया के तहत जेल भेज दिया गया।