in ,

शिक्षक अपने बेहतर प्रयासों से विद्यार्थी के जीवन लक्ष्य की राह आसान कर सकते हैं: डॉ. धीरज

शहीद आरक्षी मध्य विद्यालय में शिक्षा सह सांस्कृतिक महोत्सव कलतरंग का किया गया आयोजन

वरीय संवाददाता देवब्रत मंडल

शिक्षाशास्त्र विभाग गया कॉलेज गया के बीएड प्रथम वर्ष के प्रशिक्षुओं द्वारा प्राचार्य डा. दिनेश प्रसाद सिन्हा के दिशानिर्देश पर चल रहे अभ्यास शिक्षण के क्रम में गया शहर स्थित शहीद आरक्षी मध्य विद्यालय में शिक्षा सह सांस्कृतिक महोत्सव कलतरंग का आयोजन किया गया। बीएड प्रशिक्षुओं एवं विद्यालय के विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए विभागाध्यक्ष डॉ. धनंजय धीरज ने कहा कि जीवन में सतत संघर्ष से ही सफलता हासिल की जाती है। सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता। सफलता एक सोपानबद्ध प्रक्रिया है। प्रत्येक विद्यार्थी को जीवन में सफल होने के लिए सर्वप्रथम अपने जीवन लक्ष्यों का निर्धारण करना चाहिए। उस जीवन लक्ष्य की प्राप्ति के लिए पूर्ण निष्ठा, ईमानदारी से कड़ी मेहनत करनी चाहिए। उन्होंने कहा अभीप्रेरण के लिए सफल व्यक्तियों एवं महापुरुषों की जीवनी एवं उनकी आत्मकथाओं का अध्ययन करें। यदि किसी भी विषय में आपको कठिनाई या समस्या आती है तो उस विषय की समझ विकसित करने के लिए आप अपने गुरुजनों की मदद लें। उसपर अत्यधिक समय दें। विद्यालय के अलावा घर पर भी एक समय सारणी का निर्माण करें। जिसमें पढ़ाई, खेलकूद व मनोरंजन के लिए पर्याप्त स्थान दें। जिसका शत प्रतिशत अनुपालन करने का प्रयत्न करें। उन्होंने आगे कहा कि निरंतर संघर्ष ही सफलता का मूल मंत्र है। डॉ. धीरज ने कहा कि इन विद्यार्थियों में असीम प्रतिभा है। इस प्रतिभा को आवश्यकता मात्र सही दिशानिर्देश करने की है। जिस प्रकार से इन विद्यार्थियों ने खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया है, आशा है कि यह विद्यार्थी आने वाले दिनों में राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर अपने विद्यालय की और राज्य की पहचान बना सकेंगे। देश के नन्हे-मुन्ने नौनिहालों के सपनों को साकार करने की जिम्मेवारी शिक्षकों के कंधों पर ही है। शिक्षक अपने बेहतर प्रयासों से विद्यार्थी के जीवन लक्ष्य की राह आसान कर सकते हैं। शहीद आरक्षी मध्य विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापिका शीला कुमारी ने कहा शिक्षा शास्त्र विभाग गया कॉलेज गया के बीएड प्रशिक्षुओं का प्रदर्शन शैक्षणिक एवं शैक्षणिक क्षेत्र में अव्वल है मैं इनके उज्जवल भविष्य की कामना करती हूं। मौके पर विभाग के सहायक प्राध्यापक सह विद्यालय पर्यवेक्षक अमरेंद्र कुमार, डॉ अभिषेक कुमार, निखत परवीन, डॉ. आरएन प्रियदर्शनी, सदरे आलम अजय शर्मा शिक्षक शक्ति राज तथा सहायक अश्वनी कुमार एवं अंजनी कुमार उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन बीएड की छात्रा एवं ग्रुप लीडर शालिनी ने किया।

What do you think?

Written by Deobarat Mandal

Leave a Reply

GIPHY App Key not set. Please check settings

एडीएम ने अपीलार्थी से कहा-अब आपको जनता दरबार में आने की जरूरत नहीं, जल्द हो जाएगा आपका काम

गया जंक्शन के सर्कुलेटिंग एरिया से लावारिश बैग में रही शराब बरामद