चुनावी रंजिश में मारपीट में सात लोग घायल, नौ को भेजा गया जेल

GAYA DESK
GAYA DESK
2 Min Read

डुमरिया-प्रखंड के मंझौली पंचायत के टेकरा खुर्द गांव में शुक्रवार की रात लाठी डंडे से हुई मारपीट और रोड़ेबाजी में दोनों पक्ष से आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए हैं।  घायलों का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र डुमरिया में किया गया। डॉ मधुरश्याम ने बताया कि इलाज के बाद सभी को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। दोनों पक्षों के द्वारा एक दूसरे के विरुद्ध डुमरिया थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई है। दोनों पक्ष के नौ लोगों को हिरासत में लेकर शनिवार के दिन कोरोना जांच के बाद जेल भेज दिया गया है। ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पूर्व मुखिया प्रमोद यादव की पत्नी नीरा देवी मुखिया पद की उम्मीदवार थीं। उनके पड़ोसी और रिश्तेदार सुरेन्द्र कुमार ने भी मुखिया पद के लिए नामांकन कराया था। चुनाव प्रचार के दौरान दोनों  पक्षों के बीच काफी तनाव था। शुक्रवार के दिन हुए मतगणना में नीरा देवी की जीत की खबर जब उनके समर्थकों को मिली तो उनके टेकरा खुर्द आवास पर डीजे बजने लगे और पटाखे छोड़े जाने लगे। जीत का यह जश्न सुरेन्द्र कुमार के समर्थकों को अच्छा नहीं लगा और दोनों पक्षों के बीच हाथापाई हो गई। जीत के बाद गया से नीरा देवी जब अपने समर्थकों के साथ गांव पहुंची तो फिर से दोबारा लाठी डंडे से मारपीट और रोड़ेबाजी हुई। जिसमें आधा दर्जन से अधीक लोग घायल हो गए।

रिपोर्ट – दिवाकर मिश्रा ,डुमरिया

Share this Article
Leave a comment