गया में चिकित्सा पदाधिकारी को घेर कर पकड़ा गया, भागने लगे तो पुलिस को कराना पड़ा सड़क जाम

Deobarat Mandal
Deobarat Mandal
3 Min Read

वरीय संवाददाता देवब्रत मंडल

File photo

गया जिले के गुरारू के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. मजहर हुसैन को गिरफ्तार करने के लिए हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। गुरुवार को गुरारू थाना की पुलिस ने उन्हें चारो तरफ से घेर कर गिरफ्तार किया। इसके बाद उन्हे जेल भेज दिया। पुलिस द्वारा रोके जाने पर गिरफ्तारी के डर से वे भागने लगे थे । चिकित्सा पदाधिकारी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को बरमा गांव के पास सड़क जाम (घेराबंदी) कराना पड़ा। गुरारू के थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने हमारे स्थानीय संवाददाता को बताया कि कार से गुरारू के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के समीप पहुंचे प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. मजहर हुसैन को पुलिस ने रुकने का इशारा किया था। इशारों को भांप चुके प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी कार द्वारा तेजी से गुरारू-मथुरापुर स्टेट हाईवे 69 पर मथुरापुर की तरफ भागने लगे। जिसके बाद बरमा गांव के पास मौजूद पुलिस गश्ती वाहन को सड़क जाम कराने का निर्देश दिया गया। घेराबंदी की गई, तब प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की गिरफ्तारी हुई। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. हुसैन के विरुद्ध गुरारू थाना में लिखित आवेदन देकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के तत्कालीन प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. अमित कुमार ने सरकारी कार्य में बाधा डालने व जाति सूचक शब्द का प्रयोग कर उनके साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया था। एफआईआर में ओपीडी में कार्य कर रहे चिकित्सक डा. प्रियरंजन कुमार को बाहर निकालकर ओपीडी कक्ष में ताला लगा देने का आरोप भी डा.मजहर हुसैन पर तत्कालीन प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने लगाया है। घटना के दिन हंगामा के कारण परिवार नियोजन का आपरेशन कराने पहुंचे कई मरीजों के वापस चले जाने व ओपीडी में इलाज कराने के लिए आए कई मरीजों के भी बिना इलाज कराए ही वापस चले जाने की बात भी कही गई थी। थानाध्यक्ष के अनुसार डा. अमित के द्वारा दिए गए आवेदन के आधार पर कांड संख्या 186 /21 दर्ज की गई थी। चर्चा है कि गिरफ्तार आरोपी चिकित्सा पदाधिकारी गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका पटना हाई कोर्ट में दाखिल किया था, लेकिन रिजेक्ट कर दिया गया था। न्यायालय के आदेश पर गुरारू थाना प्रभारी ने हाई वोल्टेज ड्रामा के बीच गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वहीं कांड के पर्यवेक्षण के उपरांत टिकारी के एसडीपीओ गुलशन कुमार ने आरोपी डा. हुसैन की गिरफ्तारी का आदेश कांड के अनुसंधानकर्ता को दिया था ।

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment