न्यूज शेयर करें

✍️देवब्रत मंडल

गया के रेलवे इंस्पेक्टर कॉलोनी में रह रहे रेलकर्मी संजय कुमार हत्याकांड के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा कर लिया है। इस मामले में गिरफ्तार तीन लोगों में एक महिला भी है जो मृतक रेलकर्मी के घर की नौकरानी है। जबकि इसके अलावा नौकरानी रानी कुमारी के पति और तीसरा करीब का रिश्तेदार है। एसएसपी आशीष भारती ने गुरुवार को आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि 28 अप्रैल को इंस्पेक्टर कॉलोनी में रहने वाले रेलकर्मी संजय कुमार के पुत्र शशांक ने सूचना दी थी कि उनके पिता का मोबाइल 26 अप्रैल से बंद है, इसके बाद उनके आवास पर जाकर पुलिस ने छानबीन की तो संजय कुमार का शव पानी वाले हौज में पाया गया। इसके बाद पुलिस वैज्ञानिक तरीके से अनुसंधान शुरू की। जिसका नेतृत्व एएसपी पारसनाथ साहू कर रहे हैं। इस अनुसंधान में तकनीकी शाखा, एफएसएल और फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट को शामिल किया गया है। एसएसपी ने बताया इस हत्याकांड में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें गया शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के मुरली हिल मोहल्ले की रहने वाली रानी कुमारी, उसका पति सोनू कुमार उर्फ जाकिर अली एवं संजय कुमार को गिरफ्तार किया गया है। संजय डेल्हा थाना क्षेत्र में रहता है। जबकि मूलरूप से वह डुमरिया का निवासी है।

वीडियो

एसएसपी श्री भारती ने बताया कि इस घटना को घर की नौकरानी के द्वारा दो लोगों के साथ मिलकर अंजाम दिया गया था। उन्होंने बताया कि पूछताछ के क्रम में उक्त तीनों ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। हालांकि प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पत्रकारों ने हत्या करने के पीछे की वजह को जानना चाहा तो वजह नहीं बताया गया कि आखिर रेलकर्मी की हत्या के पीछे की वजह क्या थी।
उन्होंने बताया कि मृतक के आवास पर आलमारी में रखे नगदी व जेवरात की भी चोरी हुई है, लेकिन चोरी कितने की हुई है, इसकी अभी जानकारी परिजनों के द्वारा नहीं दी गई है। क्योंकि मृतक रेलकर्मी अपने परिवार से अलग रेलवे आवास में रह रहा था। उन्होंने बताया परिजन ही ये बता सकते हैं कि क्या क्या चोरी गई है।

विज्ञापन
विज्ञापन

Categorized in:

Crime, MAGADH LIVE NEWS,

Last Update: May 4, 2024