Join NowTelegram & WhatsApp Group

बिहार लीगल नेटवर्क ने कैंप लगाकर कानूनी विषयों पर किया जागरुक

बेहतर समाज के लिए लोगों का जागरूक होना जरूरी

बिहार लीगल नेटवर्क की गया जिला इकाई ने सोमवार को नगर प्रखंड चाकन्द के बारा गांव में लीगल अवेयरनेस कैंप का आयोजन किया। कैंप के माध्यम से संस्था के वकीलों ने लोगों को कानून और न्यायतंत्र से जुड़े विषयों पर जानकारी दी।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बिहार लीगल नेटवर्क के प्रोग्राम कोऑडिनेटर आमिर सुब्हानी ने कहा की वंचित और गरीब तबके के लोग सही जानकारी एवं उचित परामर्श के अभाव में अपनी कानूनी लड़ाई सही से नहीं लड़ पाते हैं, जिससे न्याय मिलना मुश्किल हो जाता है एवं न्यायतंत्र से भरोसा उठ जाता है। बीएलएन ऐसे ही लोगों का सहारा बनकर निचली अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक निशुल्क लड़ाई लड़ने का काम कर रहा है।
संस्था के गया जिला लीगल फेलो अधिवक्ता कुंदन कुमार ने कहा की यह संस्था वकीलों और सामाजिक कानूनी पेशेवरों का एक नेटवर्क है जो समाज के कमज़ोर वर्गो को मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान करता है। अल्पसंख्यक, दलित और समाज के अंतिम पंक्ति के लोगों के अधिकारों की रक्षा हेतु फरवरी 2021 को पटना में बिहार लीगल नेटवर्क की शुरुआत हुई। बीएलएन का उद्देश्य एक ऐसे समाज का निर्माण करना है जहां हर पीड़ित व्यक्ति को सुविधाजनक कानूनी सेवाएं और निष्पक्ष न्याय मिल सके। साथ ही उन्होंने प्राथमिकी, गिरफ्तारी और ट्रायल से जुड़े पहलुओं पर बात रखी। बीएलएन के नेटवर्क एडवोकेट मो. रफीउल बख्त ने महिलाओं एवं सम्पत्ति से जुड़े विवाद पर प्रकाश डालते हुए कहा कि समाज का बड़ा हिस्सा आज दहेज हत्या, घरेलु और यौन हिंसा सहित सम्पत्ति से जुड़े विवादों से प्रभावित है। व्यापक कानूनी जागरुकता, कानून का इस्तेमाल और सामाजिक बदलाव से ही यह तस्वीर बदल सकती है। ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी भूमि एवं सम्पत्ति विवाद आपराधिक मामलों की मूल वजह है। उन्होंने सम्पत्ति के बंटवारे से संबंधित कानूनों पर भी बात रखी।
कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बारा गांव के लोग सहित पड़ोस के ग्रामीण और छात्र-नौजवान शामिल रहे। साथ ही उपस्थित लोगों ने कानून से जुड़े बहुत सारे सवाल पूछे जिसका लीगल फेलो ने जवाब देकर उनकी शंकाओं को दूर करने का प्रयास किया।
कार्यक्रम का संचालन आइसा के पूर्व राज्य उपाध्यक्ष तारिक अनवर ने किया।

✍️ देवब्रत मंडल (संपादक लाइव मगध न्यूज़)