राज्य निर्वाचन आयोग के एक पत्र ने नगर निकाय चुनाव लड़ने वाले प्रत्यशियों के दिल की धड़कनें और बढ़ा दी

Deobarat Mandal
Deobarat Mandal
3 Min Read

वरीय संवाददाता देवब्रत मंडल

नगर निकाय चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने बड़ी बात कह दी है। राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी जिलों के डीएम और निर्वाची पदाधिकारी को इस संबंध में एक पत्र लिखकर कहा है कि प्रत्याशियों को भी इससे अवगत करा दिया जाए। राज्य निर्वाचन आयोग के विशेष कार्य पदाधिकारी ने 30.09.2022 को पत्र जारी किया है। राज्य निर्वाचन आयोग के ताजे पत्र ने बिहार में नगर निकाय चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के दिल की धड़कनों को और भी बढ़ा दिया है। प्रथम एवं द्वितीय चरण के चुनाव के लिए प्रत्यशियों ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है और प्रथम और द्वितीय चरण के चुनाव के लिए चुनाव चिन्ह भी आवंटित कर दिए गए हैं। सारे पदों के प्रत्याशी अपनी पूरी ताकत वोटरों को अपने पक्ष में वोट डालने के लिए पूरी ताकत में लगा रहे है। अब इन सारे प्रत्यशियों के मन में चुनाव को लेकर अभी भी दुविधा की स्थिति है। कारण है कि  दायर याचिका के संबंध में माननीय उच्च न्यायालय में फैसले को रिजर्व रखा गया है। ऐसे में प्रत्यशियों की दुविधा बढ़ गई है । प्रत्याशी चिंतित हैं कि अब आगे क्या होगा?  इसी बीच चुनाव आयोग ने भी साफ कर दिया है कि माननीय उच्च न्यायालय का जो फैसला होगा वही मान्य होगा। अब सबकी नजर न्यायालय के फैसले पर टिकी है। आयोग ने अपने पत्र में कहा है कि माननीय उच्च न्यायालय का जो फैसला होगा वो मान्य होगा । राज्य निर्वाचन आयोग ने नगर निकाय चुनाव 2022 को लेकर जारी अपने पत्र में कहा है कि समादेश याचिका (cwjc) संख्या 12514/2022 ( सुनील कुमार बनाम राज्य सरकार एवं अन्य ) में माननीय पटना उच्च न्यायालय द्वारा दिनांक 29.09.2022 को पारित आदेश के संबंध में कहना है कि प्रथम चरण का निर्वाचन जो दिनांक 10.10.2022 को निर्धारित है उसका निर्वाचन प्रक्रिया एवं परिणाम पटना उच्च न्यायालय द्वारा समादेश याचिका संख्या 12514/2022 ( सुनील कुमार बनाम राज्य सरकार एवं अन्य ) एवं अन्य समरूप वादों में पारित निर्णय से आच्छादित होगा। यानी माननीय उच्च न्यायालय का जो फैसला होगा वही मान्य होगा। पत्र सभी जिलों के डीएम एवं निर्वाचन पदाधिकारी(नगरपालिका) को भेजा गया है। सभी संबंधित को सूचित करने की बात भी कही है। राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी निर्वाची पदाधिकारी को पत्र के आशय की सूचना सभी अभ्यर्थियों को भी देने की बात कही है।

Share this Article
Leave a comment